धरणीधर का पुरा, चौकिए मत ! यह एक गाँव है

   धरणीधर का पुरा, यह उत्तर प्रदेश के संगम नगरी इलाहाबाद से लगा हुआ एक छोटा सा गाँव है। इलाहाबाद से यह गाँव महज़ 15 किमी॰ की दूरी पर है। इलाहाबाद से इलाहाबाद–लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर 15 किमी॰ चलने के बाद मार्ग से हटकर 1 किमी॰ अंदर की ओर जाने पर धरणीधर का पुरा गाँव आपकी ख़िदमत में हाज़िर रहता है। 


   मेरा यायावरी अनुभव कहता है,  अगर आप भारत के ग्रामीण जीवन शैली से रूबरू होने का शौक रखते हैं, तो राष्ट्रीय राजमार्ग या राजमार्ग पर सफ़र करते वक़्त राजमार्ग से जुड़े हुए रास्ते की ओर सहज चल दे। महज़ 1-2 किलोमीटर की अनूठी और सुखद यात्रा के बाद आप ग्रामीणों के बीच अपने आप को पायेँगे और वास्तविक भारत से रूबरू होंगे।
    
     धरणीधर का पुरा गाँव में गाँव के रहस्यमयी नाम के अलावा अगर कोई चीज़ देखने की है तो वो यहाँ के हरे – भरे लहलहाते खेत .....। 
 हरे–भरे खेतों के क़ुदरती नज़ारे मन को मोह लेते है। लहराती–बलखती गेंहू और सरसों की युवा फ़सल मन को अपने साथ झूमने में मज़बूर कर देती है। 


  यह गाँव आज भी शहरों की भाग दौड़ भरी ज़िंदगी से काफ़ी कोसों दूर है। साथ ही बेहद शांत  और अपनी विरासत और संस्कृति को संजोय हुए आज भी जीवित है......... ।

Comments

Popular posts from this blog

अतिरंजीखेड़ा के विस्तृत भू-भाग में फ़ैले पुरातात्विक अवशेष ईंट और टेरकोटा के टुकड़े गवाह हैं अपने इतिहास और रंज के

मदार का उड़ता बीज : Flying Seed Madar

भरतकूप : भगवान भरत के कुएँ की पौराणिक नगरी और बुंदेलों का ऐतिहासिक स्थल